Android kya hai और इसकी शुरुआत कैसे हुई ?

Rate this post

Android kya hai? आज हम में से बहुत लोग smartphone का इस्तेमाल करते है और आप कहीं पर भी चले जाईये आपको  android user देखने को मिलेंगे | ऐसा इसलिए है क्यूंकि android अपने उपभोक्ताओं के लिए सस्ते दामों पर अच्छा और भरोसेमंद smartphone प्रदान करता है | और Android OS पर आधारित smartphone आज दुनिया भर में सबसे ज्यादा बिकने वाला smartphone है |

आज पूरी दुनिया में लगभग 3.8 Billion smartphone users है जो कि पूरी दुनिया के population का 48.33% है जिसमे 2.73 Billion सिर्फ android users है | अगर हमारे भारत देश की बात करे तो भारत में लगभग 760 Million smartphone users है जिसमे 95.23% android users हैं |

क्या आपको यह पता होगा कि android kya hai और इसकी क्या खासियत है जो इसको दुसरे mobile platform से बेहतर बनती है | आज के इस article में हम आपको android kya hai और इससे जुड़ी सभी सवालों के जवाब देंगे |

Android kya hai – What is Android in Hindi

Android एक प्रकार का operating system है जो Linux Karnel पर आधारित है जिसे google द्वारा develop किया गया है |

Linux एक open-source और free operating system है जिसमे बहुत सारी modification यानी परिवर्तन करके android को बनाया गया है | Linux operating system का इस्तेमाल server और desktop computers में होता है इसलिए android को ख़ास करके touchscreen mobile devices जैसे smartphone और tablets के लिए तैयार किया गया है ताकि जो features और application हम अपने computer में इस्तेमाल करते है उसे बड़ी आसानी से अपने mobile phone में भी इस्तेमाल कर सकते है |

Android का विकास Google और अन्य कंपनियां के संचालन में OHA (Open Handset Alliance ) द्वारा किया गया था .

OHA (Open Handset Alliance) google, samsung, AKM, synaptics, KDDI, germin, telece, ebay, intel आदि 84 कंपनियों का संघटन है | जिसे google के संचालन में 5 November 2007 को स्थापित किया गया था |

Android की शुरुआत कैसे हुई – History of Android in Hindi

Android की शुरुआत साल 2003 में Android Inc. के निर्माता Andy Rubin ने किया था जिसे साल 2005 में इस कम्पनी को google ने खरीद लिया था और इसके बाद Andy Rubin को ही  Android OS Development का head बना दिया गया था |

Google को Android एक बहुत ही नई और बेहतेरीन OS लगी जिसकी मदद से वह एक powerful OS बना सकते है | Android को officialy साल 2007 में google द्वारा launch किया गया और साथ ही Android OS Development की घोषणा भी की गयी थी |

साल 2008 में HTC Dream को market में launch किया गया था जो android os पर चलने वाला पहला smartphone था | इसके बाद android के काफी सारे version launch किये गए जिसे android उपभोक्ताओं द्वारा अच्छा response मिला |

Android के popular होने के बाद साल 2013 में Andy Rubin ने google को अपने किसी project के लिए छोड़ दिया था | इनके जाने के बाद Sunder Pichai को android का head बना दिया गया था |

Android की विशेषताएं – Features of Android in Hindi

Android एक बहुत ही अच्छा platform साबित हुआ है android के features इसे दूसरे platform से बेहतर बनाते है और उनकी जानकारी भी आप को जाननी ज़रूरी है |

  • Android एक beautiful और attractive interface प्रदान करता है जिसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसन है इसे कोई भी आम इंसान जो पहली बार smartphone का उपयोग कर रहा है वो भी इसे बहुत आसानी से इस्तेमाल कर सकता है |
  • Android multiple languages यानी बहुत सारी भाषाओं को support प्रदान करता है जैसे English, Hindi, Urdu, Marathi, Telugu, Bengali, Punjabi आदि आप अपनी पसंदीदा भाषा को चुन कर अपने phone में इस्तेमाल कर सकते है |
  • Android एक multitasking operating system है इसका मतलब है की आप अपने phone में एक साथ कई काम कर सकते है | जैसे आप google पर सर्च कर रहे है और इसके साथ आप music app से गाने भी सुन सकते है साथ ही किसी file को download भी कर सकते है |
  • Android में connectivity के बारे में बात करे तो इसमें Wifi, Bluetooth, Hotspot, CDMA, GSM, 3G, 4G, NFC आदि पाए जाते है जिससे हम बहुत आसानी से अपने mobile को दुसरे network के साथ connect कर सकते है |
  • Android में आप अपने पसंदीदा apps को download करके उसका इस्तेमाल कर सकते है android operating system में google play store एक by default app होता है जो यूजर को free में app download करने की अनुमति देता है google play store से आप अनगिनत app download कर सकते है |
  • Android operating system की ख़ास बात यह है की ये free और open-source operating system है यानी इसका इस्तेमाल किसी भी mobile phone में किया जा सकता है |

Android operating system को और भी बेहतेरीन बनाने के लिए Google नए-नए  version लाता रहता है | इन नए version का इस्तेमाल करने के लिए आपको नया mobile phone लेने की आवश्यकता नहीं है ये version आपको आपके phone में ही update के रूप में मिलता है | आप अपने phone को update करके इन नए version का इस्तेमाल कर सकते है update करने से आप अपने phone में बहुत सारे new features पा सकते है और प्रत्येक updates के साथ आप के phone की speed और performance में बढ़ोतरी होती है |

Versions of Android in Hindi

तो चलिए दोस्तों अब हम android के versions के बारे में जानते है | Google ने अब तक android के 11 version launch किये है google इस नए version को नई सुविधाए और सुधार के साथ इसे अलग-अलग समय पर launch करता है google android version का नाम मिठाई या desert के नाम पर रखता है |

Android 1.0

Android ने Android 1.0 को September 2008 को officialy launch किया था | यह android operating system का पहला version था | यह version HTML और XHTML webpage, Camera, Access Web Email Server (POP3, IMAP4 और SMTP) को दिखने के लिए web browser को support करता था | इस version में Google Maps, Google Search, Google Calender, Alarm, Media Player, Wallpaper, Youtube Video Player, Clock, Calculator, Wifi, Bluetooth इत्यादि थे |

Android 1.5 : Cupcake

Android 1.5 version 27 April, 2009 को launch किया गया था इसका नाम एक desert के नाम पर रखा गया था जिसका नाम Cupcake था | यह Linux Kernal 2.6.27 पे based था इस update में Third-party virtual keyboard, Video Recording, Copy and Paste features, Auto-rotation option and Check phone usage history इत्यादि support करते थे | और इसके साथ इसमें आप Youtube पर Videos और Picassa पर Photos upload कर सकते थे |

Android 1.6 : Donut

Android 1.6 version को 15 September, 2009 को Donut नाम के साथ release किया गया था इस version में बहुत सारे नए features को add किया गया थे | जैसे voice and text entry search, bookmark history, faster camera access, select multiple photos for deletion, web, speak a word of text, WVGA screen revolution इत्यादि |

Android 2.0 : Eclair

Android 2.0 version 26 October, 2009 को release किया गया और इसका codename Eclair रखा गया था | यह Linux Kernal 2.6.29 पर based था इस update में कई नई features को शामिल किया गया था | जैसे कि microsoft exchange email support, expanded account, bluetooth 2.1 support इसके साथ इसमें आप contact photo को tap करके call, email और SMS कर सकते थे | इसके साथ इसमें select all saved MMS and SMS, oldest message delete automatically when the defined limit is reached की सुविधा थी | और इसमें typing speed on a virtual keyboard, google maps को improve किया गया |

Android 2.2 : Froyo

Android 2.2 version को 20 May, 2010 को Froyo नाम के साथ release किया गया | यह Linux Kernal 2.6.32 पर based था इसमें भी कई features थे | जैसे की speed, memory, performance optimization इसके अलावा इसमें JIT Compiler, Integeration of Chrome’s v8, Javascript engine into the browser application, Wifi Hotspot, Adobe Flash Support भी support करता था |

Android 2.3 : Gingerbread

Android 2.3 version को 6 December, 2010 को release किया गया जिसका नाम Gingerbread रखा गया था | यह Linux Kernel 2.6.35 पर based था इस update में काफी बदलाव किये गए | जैसे support for extra-large screen size and resolution, Update user interface design with increased simplicity and speed, Better suggested text and voice input mode, New download manager, Near Field Cummunication(NFC) support, Battery Effeciency इत्यादि की सुविधाएं थी |

Android 3.0 : Honeycomb

22 February, 2011 को android 3.0 (Honeycomb) को पहले tablet के लिए launch किया गया था जो कि Linux Kernel 2.6.36 पर based था | इसमें tablet के लिए “holographic” user interface, added system bar, high-performance wifi-lock, redesign the keyboard making fast typing इत्यादि की सुविधा शामिल की गयी थी |

Android 4.0 : Ice Cream Sandwich

19 October, 2011 को Android 4.0 (Ice Cream Sandwich) को publically launch किया गया इसके source code को 14 November, 2011 में उपलब्ध कराया गया था | यह Adobe System Flash Player को officialy support करने वाला आखरी android version था इसमें कई नए features लाये गए जिसमे  “Holo” interface with new Roboto Font Family, Better camera performance, spell-checking, built-in photo editor, screenshot capture, improvement to graphics आदि शामिल है | इसके अलावा आप इसमें बड़े ही आसानी से drag-and-drop style से folders बना सकते है और इसमें face-unlock जैसी सुविधाए भी शामिल थी |

Android 4.1 : Jelly Bean

Google ने 9 July, 2012 को Android 4.1 (Jelly Bean) को launch किया यह Linux Kernel 3.0.31 पर based था | Jelly Bean user interface की कार्य छमता और प्रदर्शन में सुधार के उदेश्य के साथ एक incremental (बढ़ता जाने वाला) update था इस update में smooth user interface, lock screen improvement, multi user account, volume for incoming call, native emoji support इत्यादि जैसी सुविधा मिली |

Android 4.4 : KitKat

Android 4.4 (Kitkat) को offilicaly 3 September, 2013 को launch किया गया था हालांकि शुरुआत में इसका नाम “Key Lime Pie” रखा गया लेकिन बहुत कम ही लोग थे जो Key Lime Pie का taste जानते थे इसलिए इसका नाम बदल कर “KitKat” रख दिया गया | इसका प्राथमिक ध्यान operating system को optimize करना था जो पहले के devices के performance में सुधार करता है

Android Kitkat में बहुत सारे नए features को शामिल किये गए थे Android KitKat के कुछ महत्वपूर्ण  features को निचे दर्शाया गया है

  • Better Memory Management
  • Google on the Home Screen
  • Fast Multitasking
  • Emoji Everywhere
  • Built-in Sensors
  • Lock Screen Art
  • Wireless Printing Capability
  • Screen Recording Feature

Android Kitkat में clean features और यूजर interface है यह Near Field Cummunication (NFC) protocol को support करता है android kitkat में एक touchscreen action बटन होता है जो पिछले version पर मौजूद physical बटन की आवश्यकता को बदल देता है |

Android 5.0 : Lollipop

Android 5.0 (Lollipop) को 3 November, 2014 को officialy release किया गया था | Development के दौरान इसका नाम “Android L” था | Android Lollipop में एक महत्वपूर्ण बदलाव Material Design किये गए इसके साथ इसमें आप lockscreen पर भी notification को access करने की अनुमति मिलती है | Android Lollipop के और भी  features को निचे बताया गया है |

  • Support for 64-bits CPU
  • Refreshed Lockscreen
  • Audio input and output through USB devices
  • Support for Multi SIM Card
  • Device Protection
  • Support for Print Priview
  • Native Wifi Calling Support
  • Emoji Update

Android 6.0 : Marshmalllow

Android 6.0 (Marshmallow) 5 October, 2015 को release किये गया था | Android Marshmallow का मुख्य उदेश्य user के अनुभव में सुधार करना था | Android Lollipop के बाद Android Marshmallow में कई नए features जोड़े गए उसमे से कुछ निचे आपको नज़र आयेंगे |

  • Doze mode – more battery life
  • Native fingerprint support
  • App Permissions
  • USB Type-C and USB 3.1 support
  • Direct share
  • Slight change to the lockscreen

Android 7.0 : Nougat

Android 7.0 (Nougat) को 22 August, 2016 को release किया गया इसमें बहुत सारे बदलाव किये गए जो पहले के version में नहीं थे |

  • Zoom in the screen
  • Multi-window support
  • Data saver mode
  • Circular App icon support
  • Send Gifs directly to the keyboard

Android 8.0 : Oreo

Android 8.0 (Oreo) को 21 August, 2017 को release किये गया था इसके development के दौरान इसका नाम Android “O” रखा गया था इस update में भी बहुत सारे features को add किया गया |

  • picture-in-picture mode
  • notification grouping
  • performance improvement
  • Bluetooth 5
  • Battery usage optimization
  • Better Google Assistant

Android 9.0 : Pie

Android 9.0 (Pie) को 6 August, 2018 को publicly release किया गया इसके कुछ महत्वपूर्ण features को निचे बताया गया है |

  • Adaptive battery life
  • Navigation changes
  • Wind Down mode
  • Percentage in display bar
  • DND (Do Not Disturb)

Android 10

Android 10 को 3 September, 2019 को release किया गया | यह android operating system की दसवीं बड़ी release है | इसके features के बारे में निचे बताया गया है

  • Wifi sharing via QR Code
  • Dark theme
  • Focus mode
  • Gesture Navigation
  • Location Controls
  • Security Updates
  • Smart Reply
  • Improved file app

Android 11

यह अब तक का सबसे latest android operating सिस्टम है इसे 8 September, 2020 को release किया गया है | इसमें बहुत सारे exciting features को add किया गया है जो हमें पहले के version में देखने को नहीं मिला है यहाँ हम android 11 के कुछ ख़ास features के बारे में चर्चा करेंगे |

  • इस version में आप अपने सभी messages एक ही स्थान पर प्राप्त कर सकते है |
  • Android 11 screen recording की सुविधा प्रदान करता है जो हमारे phone के screen के current activity को capture करता है |
  • इस version में हम अपने phone से जुड़े other devices से music चला सकते है |
  • Android 11 Google play से सीधे हमारे smartphone को अधिक security और privacy देता है |

Conclusion :

दोस्तों, आज के इस article में हमने आपको android kya hai और इसके versions के बारे में विस्तार से बताया है | हमें उम्मीद है की आपको यह article पढ़ कर android की बहुत सारी जानकारी के बारे में पता चला होगा | अगर आपको android kya hai से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप हमें comment में पूछ सकते है |

2 thoughts on “Android kya hai और इसकी शुरुआत कैसे हुई ?”

Leave a Comment