Bohot Pyaar Karte Hai 25th November 2022 Written Episode Update:

Bohot Pyaar Karte Hai 25th November 2022 Written Episode Update: एपिसोड की शुरुआत आशा ने सुनीता से बॉब जी के बारे में पूछते हुए की। सुनीता का कहना है कि वह अपने दोस्त की तबीयत खराब होने पर पुणे गए थे। उसे उम्मीद है कि वह ठीक हो जाएगा। वह फिर आशा से पूछती है कि उसने उस कमरे में दिन कैसे बिताया, अगर वह डरी नहीं थी। दीप वहां आता है और कहता है कि परेशानी व्यक्ति को ताकत देती है। वह समीर की तरफ से आशा से माफी मांगता है। आशा कहती है मैं ठीक हूँ। वह उसे एक सप्ताह की छुट्टी लेने या घर से काम करने के लिए कहता है। वह मुआवजे के रूप में चेक देता है, लेकिन आशा लेने से इंकार कर देती है।

दीप उसके फैसले का सम्मान करता है और चला जाता है। सुनीता बताती हैं कि परिवार एक है, लेकिन कुछ अच्छे हैं तो कुछ बुरे। आशा कहती है इसलिए समीर जेल में है। दीप घर आता है और इंदु से सभी को खाना खाने के लिए बुलाने को कहता है। इंदु रितेश से अपना गुस्सा खाने पर नहीं निकालने के लिए कहती है। रितेश कहता है मुझे भूख नहीं है। कामना उसे खाना खाने के लिए कहती है। रितेश का कहना है कि आपने अधिकार खो दिया है, इच्छा पूरी करने के लिए लड़की का इस्तेमाल किया। कामना कहती है कि वह एक माँ है और जब वह गुस्सा हुई तो वह सहन नहीं कर सकी। रितेश का कहना है कि आपका बेटा एक शैतान और अमानवीय है और कहता है कि आपको उसे अपना बेटा कहने में शर्म महसूस होती, अगर उसने देखा होता कि उसने आशा के साथ क्या किया है।

कामना कहती है कि वह अपने बेटे को जेल में सड़ने नहीं दे सकती। रितेश ज़ून को सुनते हुए देखता है और चला जाता है। दीप इंदु से कहता है कि वह ज़ून की देखभाल करेगा। रितेश सोचता है कि समीर ने आशा के साथ जो कुछ भी किया है। वह इंदु से परेशान हो जाता है और बताता है कि उसने कामना को ज़ून लेने से रोक दिया होता। इंदु का कहना है कि उसने अपनी मां होने के नाते ज़ून के लिए ऐसा किया है। रितेश बताता है कि वह उसका पिता है और ज़ून की परेशानी के लिए उसे दोषी ठहराता है। वह सोचती है कि क्या वह समीर की जमानत करवा लेगी।

आशा अंजलि से बात करती है। अंजलि बताती है कि वह पहुंच गई है और सभी के बारे में पूछती है। आशा उसे बताती है कि बॉब जी पुणे गए थे। दरवाजे की घंटी बजती है। वह दरवाजा खोलती है और चौंक कर फोन गिरा देती है। सुनीता आशा को बचाने के लिए उसके सामने आती है। समीर उन्हें धमकी देता है। अंजलि सुनती है और विवान को फोन करती है, उसे अपने घर जाने के लिए कहती है, नहीं तो समीर उन्हें नुकसान पहुंचा सकता है। समीर उन्हें बताता है कि पुलिस ने उन्हें पीटा है और इसलिए वह उन्हें उनका उपहार लौटाने आया है।

वह फिर उनसे माफी मांगता है और कहता है कि अगर मैं रस्सी खींचता तो आशा मर जाती। वह खाने की मेज से कांटा उठाता है, और पूछता है कि तुम क्या सोचते हो कि तुम बच जाओगे। वह कहते हैं कि अभी आपके पास समय नहीं है। सुनीता सोचती है कि इंदु को बुलाओ। समीर सुनीता को धक्का देता है और आशा को नुकसान पहुंचाने वाला है। सुनीता गिर पड़ी। वह उठती है और उसे रोकने ही वाली होती है कि समीर उसे फिर से धक्का देता है। विवान ने उसे पकड़ लिया। वह समीर से पूछता है कि वह क्या कर रहा है? वह कहता है कि आप जमानत पर बाहर हैं और फिर से जेल जाना चाहते हैं। वह किसी भी तरह उनसे बदला लेने के लिए उसे मना लेता है, लेकिन इस तरह नहीं। समीर चला जाता है।

विवान उन्हें देखभाल करने के लिए कहता है और चला जाता है। सुनीता इंदु को फोन करती है और उसे सब कुछ बताती है। इंदु उसका सामना करती है। समीर उसे अपना लेक्चर अपने पास रखने के लिए कहता है और वहां से चला जाता है। विवान वहां आता है। इंदु कहती है कि वह जाकर मोज और आशा से मिलेंगी। विवान पूछता है कि क्या मैं तुम्हें छोड़ दूं। इंदु कहती है नहीं और चली जाती है। सुनीता इंदु के लिए चिंतित हो जाती है। विवेक वहां आता है और आशा से पूछता है कि क्या वह ठीक है। आशा पूछती है कि उसे जमानत कैसे मिली। सुनीता कहती है कि वे अमीर हैं और जमानत पर छूट गए हैं। विवेक कहते हैं कि विवान ने मुझे बताया। इंदु वहाँ आती है। सुनीता कहती है कि समीर एक राक्षस है। विवेक पूछता है कि वह कैसे बाहर आया? वह पूछता है कि क्या आपने उसकी जमानत कराई। इंदु कहती हैं कि मुझे उनकी जमानत मिल गई। विवेक परेशान हो जाता है। सुनीता और आशा भी परेशान हैं।

Precap: समीर किसी को लाइट बंद करने के लिए कहता है। वह फिर इंदु को सीढ़ियों से नीचे धकेल देता है। ज़ून उठता है और Moj चिल्लाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *