क्रिप्टोकरेंसी क्या है | क्या क्रिप्टोकरेंसी भारत में गैरकानूनी है

क्रिप्टोकरेंसी क्या है? आजकल आपको क्रिप्टोकरेंसी के बारे में बहुत सुनने को मिलता होगा लेकिन क्या आप जानते है कि cryptocurrency kya hai, यह कितने प्रकार के होते है और इसका इस्तेमाल कहाँ किया जाता है अगर नहीं तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े आज मैंने इस आर्टिकल में cryptocurrency के बारे में विस्तार से बताया है|

जब दुनिया में currency नहीं हुआ करते थे तब सिर्फ वस्तु से वस्तुओ को बदल कर लेन-देन किया जाता था| लेकिन इसके बाद नोट और सिक्के को currency के रूप में लाया गया जिसे आज भी हम और आप इस्तेमाल करते है और इसके आने के बाद लेन-देन का तरीका पूरी तरह से बदल गया|

लेकिन इस तेज़ी से आगे बढ़ती इस digital world में currency भी digital हो गया है और इसे ही क्रिप्टोकरेंसी कहा जाता है जैसे कि bitcoin जिसका नाम आपने कई बार सुना होगा|

currency की बात करें तो आज हर देश के पास अपना currency है जैसे India के पास Rupees, USA के पास Dollar, SaudiArab के पास Rial है और इसी तरह बाकी देशो के पास भी अपनी अपनी currency है जिसे वो अपने देश में इस्तेमाल करते है|

ठीक उसी तरह क्रिप्टोकरेंसी को भी पुरे देश में इस्तेमाल किया जा सकता है इस currency पर किसी government, agency या किसी देश का अधिकार नहीं होता है इसका मतलब यह traditional banking को follow नहीं करती है|

क्रिप्टोकरेंसी क्या है : What is Cryptocurrency in Hindi

Cryptocurrency एक virtual currency होती है जिसे 2009 में शुरू किया गया था| क्रिप्टोकरेंसी कोई नोट या सिक्को की तरह नहीं होती है यानि हम इसे नोट या सिक्को की तरह हाथ या जेब में नहीं रख सकते लेकिन ये हमारे digital wallet में safe रहती है इसी लिए आप इसे online currency भी कह सकते है क्यूंकि यह सिर्फ online exist करती है यानी इसका इस्तेमाल आप सिर्फ online कर सकते है|

यह encrypted, transparent और decentralized digital money होता है जो blockchain पर आधारित है|

अगर क्रिप्टोकरेंसी की बात करें तो पूरी दुनिया में 5000 से भी ज्यादा क्रिप्टोकरेंसी मौजूद है जिसमे सबसे ज्यादा popular bitcoin है|

क्रिप्टोकरेंसी से आप international transaction बहुत आसानी से कर सकते है और आपको न के बराबर transaction की fees देनी होती है इसके कोई middle man भी नहीं होता है और ये transaction ज्यादा secure होते है|

Facebook, Amazon, Paypal, Welmart आदि जैसी बड़ी-बड़ी company भी क्रिप्टोकरेंसी से जुड़ी हुई है और Elon Musk जो दुनिया के सबसे आमिर व्यक्ति है वो भी क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करते है|

क्रिप्टोकरेंसी के फायदे : Advantages of Cryptocurrency in Hindi

  • क्रिप्टोकरेंसी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें fraud के chance बहुत कम होते है|
  • क्रिप्टोकरेंसी decentralized होते है इसलिए यूजर इसका मालिक होता है नाकि bank या government का अधिकार नहीं होता है|
  • इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसान होता है किसी भी लेन-देन के लिए, हमें बस smart device जैसे smartphone और internet connection की जरुरत पड़ती है और तुरंत हम online भुकतान कर सकते है|
  • दुसरे payment option के मुकाबले इसमें transaction fees बहुत कम होती है|
  • इसमें account बहुत secure होता है क्यूंकि इसमें  cryptography algorithm का इस्तेमाल किया जाता है|

क्रिप्टोकरेंसी के नुकसान : Disadvantages of Cryptocurrency in Hindi

  • इसका सबसे बड़ा disadvantage यह है कि अगर एक बार transaction कर दिया तो उसे reverse नहीं किया जा सकता है|
  • क्रिप्टोकरेंसी आपके digital wallet में store होता है और अगर आप उसका password भूल जाते है तो आपके wallet में जितने भी पैसे होंगे वो जाया हो जायेंग|

Internet क्या है और इसका मालिक कौन है ?

क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार : Types of Cryptocurrency in Hindi

क्रिप्टोकरेंसी के बहुत से प्रकार market में available है जिसे आप इस्तेमाल कर सकते है निचे हमने कुछ लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी के बारे में बताया है|

1. Bitcoin

Bitcoin दुनिया का सबसे पहला क्रिप्टोकरेंसी है जिसे 2009 में Satoshi Nakamoto ने बनाया था यह सबसे popular cryptocurrency है और यह सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाला क्रिप्टोकरेंसी है| अभी एक bitcoin की कीमत लगभग 45 लाख रूपये के करीब है|

2. Bitcoin Cash

Bitcoin Cash को वर्ष 2017 में पेश किया गया था और यह बाज़ार में उपलब्ध सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी में से एक है| Bitcoin Cash ने blocks के आकर में व्रिधि की जिससे अधिक लेन-देन करने और stability सुधरने की अनुमति मिली| अभी एक bitcoin cash की कीमत लगभग 48 हज़ार रूपये है|

3. Litecoin

Litecoin की लोकप्रियता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है यह bitcoin के तरह ही काम करता है इसे वर्ष 2011 में Charlie Lee ने बनाया था जो Google के पूर्व employee थे| इसमें script algorithm का इस्तेमाल किया जाता है| अभी एक litecoin की कीमत लगभग 13 हज़ार रूपये है|

हाइपरलूप क्या है इसकी स्पीड स्पीड कितनी होगी

4. Ripple

Ripple भी एक तरह का क्रिप्टोकरेंसी है यह 2012 में release हुआ था इसमें blockchain technology का इस्तेमाल नहीं होता है यह particular users के लिए नहीं है बल्कि यह मुख रूप से बड़ी company या corporation के लिए दुनिया भर में बड़ी मात्रा में money transaction करने के लिए काम करता है|

5. Steller

Steller एक open-network है जिसका उपयोग मुख्य रूप से पैसे को store और transfer करने के लिए किया जाता है| इसे इस तरह से design किया गया है कि दुनिया भर के सभी financial systems एक ही network पर काम कर सके| यह पैसे के सभी possible digital रूपों को बनाने, भेजने और वयापार करने के लिए अनुमति देता है चाहे वो dollar, poses, bitcoin या अन्य currency हो| यह अपने network करने के लिए users से कोई पैसे नहीं लेता है|

6. Dogecoin

Dogecoin Billy Markus और Jackson Palmer के द्वारा बनाई गयी एक क्रिप्टोकरेंसी है जिन्होंने उस समय क्रिप्टोकरेंसी में speculation(सट्टेबाजी) का मजाक उड़ाते हुए एक payment system को मजाक के रूप में बनाने का फैसला किया था | इसे साल 2013 में तैयार किया गया था और आज इसकी networth लगभग $54 billion है|

7. Ethereum

Ethereum एक तरह का open-source, decentralized online programming platform है जो blockchain technology का इस्तेमाल करता है| इसके founder Vitalik Buterin है| इसके cryptocurrency token को Ether के नाम से भी जाना जाता है|

8. Cardano

Cardano एक public blockchain platform है इसे ADA के नाम से भी जाना जाता है| इसके founder Charles Hoskinson है|यह एकमात्र ऐसा सिक्का है जो “Scientific philosophy और research-driven” के साथ उपलब्ध है| इसका मतलब यह है की scientists और programmers द्वारा इसका review किया जाता है|

रेडिएशन क्या है पूरी जानकारी

क्या क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्ट करना Risks होता है

क्रिप्टोकरेंसी में invest करने में कुछ फायदेमंद के साथ-साथ risky भी हो जाता है नीचे मुख्य risks के बारे में बताया गया है|

  • जैसा की हमने ऊपर चर्चा की है, यह decentralized तरीके से काम करता है और इसलिए इसमें कोई central authority या government के भूमिका नहीं होती है| अगर आपको इसमें कोई problem होती है तो आप इसकी शिकायत कहीं नहीं कर सकते|
  • Cryptocurrency एक virtual currency है और इसलिए इसका कोई physical existance नहीं है| यह न तो  stock या bond जैसी कंपनी को represent करता है और न ही सोने जैसी संपत्ति का| यह अन्य currency के समान कागजों पर printed नहीं होता है| इसलिए, इसका fundamental(मौलिक) value नहीं है, बल्कि केवल इसका trading(व्यापारिक) value है|
  • Cryptocurrency में invest का risk इसका volatile nature भी है| Cryptocurrency की कीमत बहुत असीमित रूप से बदलती है, और यह कभी-कभी एक घंटे में 100 dollar तक बढ़ यह घट सकती है| इसके विपरीत दुसरे currency में limited variation होती है|

क्रिप्टोकरेंसी कैसे ख़रीदे : How to buy Cryptocurrency in Hindi

क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के दो तरीके है, या तो US dollar द्वारा या अन्य क्रिप्टोकरेंसी द्वारा| इसका मतलब है कि bitcoin समित कुछ क्रिप्टोकरेंसी को US dollar का उपयोग करके खरीदा जा सकता है, जबकि अन्य को अन्य क्रिप्टोकरेंसी का उपयोग करके ख़रीदा जा सकता है|

इसके खरीदने के लिए users को currency और digital wallet को रखने के लिए एक online app की ज़रूरत होती है| आम तौर पर, आप एक exchange पर एक account बनाते है, और फिर आप Bitcoin और Ethereum जैसे cryptocurrency खरीदने के लिए real money transfer कर सकते है|

नेटवर्क क्या है और इसके प्रकार

क्या क्रिप्टोकरेंसी भारत में गैरकानूनी है

भारत में क्रिप्टोकरेंसी को RBI ने banned कर दिया था लेकिन March 2020 में Supreme Court ने इस banned को हटा दिया है| यानी इसका मतलब भारत में क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करना legal है और भारत में भी क्रिप्टोकरेंसी users की संख्य तेज़ी से बढ़ रही है|

भाविष्य में क्रिप्टोकरेंसी का स्कोप : Future Scope of Cryptocurrency

वर्तमान विकास दर के अनुसार, यह आसानी से देखा जा सकता है आने वाले कुछ सालो में क्रिप्टोकरेंसी का एक बड़ा स्कोप होगा| लेकिन क्रिप्टोकरेंसी को अर्थवयवस्था के हिस्से के रूप में स्वीकार करने में कुछ संघर्ष भी हो सकते है|

यह आसानी से देखा जा सकता है कि कुछ top cryptocurrency भविष्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे क्यूंकि वे पिछलें वर्षों से दिन-ब-दिन लोकप्रियता प्राप्त कर रहे है| वर्तमान में bitcoin का प्रयोग 96 देशों में किया जा रहा है और लगभग 12000 transactions/hour होते है|

निष्कर्ष :

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में मैंने आपको क्रिप्टोकरेंसी के बारे में विस्तार से बताया जैसे क्रिप्टोकरेंसी क्या है, इसके क्या-क्या फायदे और नुक्सान है, इसके कैसे ख़रीदे इसके अलावा और भी बहुत कुछ आज आपको इस आर्टिकल से जानने को मिले| अगर आपने इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़ा होगा तो मुझे उम्मीद है कि आपको क्रिप्टोकरेंसी के बारे में काफी जानकारी मिल गई होगी| आपको यह आर्टिकल कैसा लगा यह हमें नीचे कमेंट में लिखकर ज़रूर बताये और अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को ये जानकारी ज़रूर शेयर करें|

1 thought on “क्रिप्टोकरेंसी क्या है | क्या क्रिप्टोकरेंसी भारत में गैरकानूनी है”

Leave a Comment