GDP Full Form in Hindi | जीडीपी (GDP) क्या है पूरी जानकारी

Rate this post

दोस्तों, आपने GDP के बारे में ज़रूर सुना होगा यह शब्द अखबारों या फिर न्यूज़ में अक्सर सुनने को मिलता है लेकिन क्या आप जानते है कि GDP Full Form क्या होता है, और इसका किसी भी देश की उन्नति में क्या योगदान होता है, इसे कैसे निकाला जाता है या फिर इसका इस्तेमाल कहाँ और क्यूँ किया जाता है|

जीडीपी किसी देश की अर्थव्यवस्था को मापने का एक तरीका होता है जिससे यह पता लगाया जाता है कि देश में विकास की गति क्या है| इसलिए यह कहा जाता है कि जिस देश कि जीडीपी अच्छी होगी उस देश की अर्थव्यवस्था भी अच्छी होगी| लेकिन ये आम आदमी को पूरी तरह से समझ में नहीं आता है इसलिए आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा कि GDP Full Form क्या है, GDP कितने प्रकार के होते है और GDP को कैसे मापा जाता है इत्यादि अगर आप भी जीडीपी से जुड़ी सारी जानकारी विस्तार से जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े|

जीडीपी फुल फॉर्म : GDP Full Form in Hindi

Full Form GDP मतलब जीडीपी का फुल फॉर्म Gross Domestic Product होता है जिसका हिंदी में अर्थ होता है सकल घरेलू उत्पाद|

  • G : Gross
  • D : Domestic
  • P : Product

जीडीपी क्या है : What is GDP in Hindi

किसी भी तय समय में यानि एक साल में किसी भी देश के सीमा के अन्दर तैयार होने वाले वस्तुओं और सेवा को मिला दिया जाए और उसकी कीमत मार्केट के हिसाब से लगा दी जाए तो उसे ही उस देश की अर्थव्यवस्था की जीडीपी यानी सरल घरेलू उत्पाद कहा जाता है| मतलब एक वर्ष में उस देश में जितना उत्पादन हुआ है उसे ही जीडीपी कहा जाता है|

जीडीपी मुख्य रूप से तीन तीजो पर आधारित होती है कृषि, उधोग और सेवा और इन तीनों फील्ड में उत्पादन बढ़ने और घटने के औसत के आधार पर ही जीडीपी तय होता है| जीडीपी को अर्थव्यवस्था का सूचक भी कहा जाता है क्यूंकि इससे मार्केट में होने वाली कारोबारी गति का पता चलता है|

जीडीपी में सिर्फ घरेलू यानि कि domestic सामानों को ही गिना जाता है मतलब यो चीज़े हमारे देश में बनी होती है सिर्फ उसी चीजों की कीमत को जीडीपी में जोड़ा जाता है| जैसे मान लीजिये कोई चीज़ भारत में बनी है और वह भारत में या किसी और देश में जाकर बिकती है तो उसे जीडीपी में जोड़ा जाएगा, और अगर कोई चीज़ किसी दुसरे देश में बनती है और वह भारत में आकर बिकती है तो उसे जीडीपी में नहीं जोड़ा जाएगा | किसी देश की अर्थव्यवस्था की हालत कैसी है उसे जानने का सबसे अच्छा तरीका जीडीपी है|

जीडीपी की शुरुआत कब और कैसे हुई

जीडीपी की आधुनिक अवधारणा को पहली बार 1934 में अमेरिकी कांग्रेस की रिपोर्ट के लिए Simon Kuznets द्वारा विकसित किया गया था| इस रिपोर्ट में, Kuznets ने कल्याण के उपाय के रूप में इसके उपयोग के खिलाफ चेतावनी दी है| 1944 में Bretton Woods सम्मेलन के बाद, जीडीपी देश की अर्थव्यवस्था को मापने का मुख्य उपकरण बन गया|

उस समय Gross National Product (GNP) पसंदीदा अनुमान था, जो GDP से अलग था क्योंकि यह देश के नागरिकों द्वारा अपनी निवासी संस्थागत इकाइयों (resident institutional units) के बजाय देश और विदेश में उत्पादन को मापता था| 

1991 में अमेरिका में GNP से GDP में स्विच किया गया था, जो अधिकांश अन्य देशों से पीछे था| द्वितीय विश्व युद्ध में जीडीपी के मापन की भूमिका राष्ट्रीय विकास और प्रगति के संकेतक के रूप में जीडीपी मूल्यों की बाद की राजनीतिक स्वीकृति के लिए महत्वपूर्ण थी| Milton Gilbert के तहत अमेरिकी commerce department द्वारा यहां एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गई थी जहां Kuznets के विचारों को संस्थानों में एम्बेड किया गया था|

Tesla कंपनी का मालिक कौन है

Free Fire Game का मालिक कौन है

GDP और GNP में क्या अंतर है

GDP GNP
एक वर्ष में किसी देश की सीमाओं के अंदर उत्पादित वस्तुओं और सेवाओं के मूल्य को जीडीपी कहा जाता है| एक वर्ष में सीमाओं के बावजूद किसी देश के नागरिकों द्वारा उत्पादित वस्तुओं और सेवाओं के मूल्य को जीएनपी के रूप में जाना जाता है|
यह केवल घरेलू उत्पादन को मापता है| यह केवल राष्ट्रीय उत्पादन को मापता है|
यह उस उत्पादन पर जोर देता है जो घरेलू स्तर पर प्राप्त होता है| यह उस उत्पादन पर जोर देता है जो विभिन्न राष्ट्रों में रहने वाले नागरिकों द्वारा प्राप्त किया जाता है|
यह देश की अर्थव्यवस्था की ताकत पर प्रकाश डालता है| यह अर्थव्यवस्था के विकास में निवासियों के योगदान पर प्रकाश डालता है|
इसमें अर्थव्यवस्था के बाहर उत्पादित होने वाली वस्तुओं और सेवाओं को बाहर रखा गया है इसमें देश में रहने वाले विदेशियों द्वारा उत्पादित वस्तुओं और सेवाओं को बाहर रखा गया है।

किसी देश का GDP कैसे पता करें

किसी भी देश की जीडीपी मापने का सबसे आसान तरीका यह है कि मान लीजिये किसी देश में एक साल में 100 कुर्सी बनती है और हर एक कुर्सी की कीमत 200 रूपये है तो उस देश का जीडीपी 100 x 200 = 20000 रूपये होगा| लेकिन यह सही तरीका नहीं है जीडीपी मापने का एक formula होता है जो है|

GDP = C + I + G + (X – M)

C : Consumption(खपत)

यहाँ C का इस्तेमाल Consumption के लिए किया गया है जिसका हिंदी अर्थ खपत होता है मतलब जिसे लोग अपने उपयोग के लिए खर्च कर रहे हैं| यह उत्पादों के मूल्य का अनुमान लगता है जिसे लोग खरीदते है| उदाहरण के लिए भोजन, घरेलू सामान, गैसोलीन, किराया, निजी उपभोग आदि इसमें शामिल है|

I : Investment(निवेश)

यहाँ I का इस्तेमाल Investment के लिए किया गया है जिसका हिंदी अर्थ निवेश करना होता है| इसमें व्यवसाय या परिवार द्वारा पूंजी में निवेश करना होता है| इसमें घर निर्माण, नए घर खरीदना, मशीनरी का निर्माण, processing plant के लिए gear या hardware खरीदना, और labor और product खरीदना शामिल है|

G : Government Spending(सरकारी खर्च)

यहाँ G का इस्तेमाल Government Spending के लिए किया गया है जिसका हिंदी अर्थ सरकारी खर्च होता है| सरकार द्वारा जितने भी खर्च किये जाते है वो सभी खर्च इसमें शामिल किये जाते है| जैसे – सरकार द्वारा किये गए निवेश, सार्वजनिक प्राधिकरण द्वारा भुगतान की गई मजदूरी और मुआवजा और किसी प्रकार की हथियार खरीदना आदि|

X : Export(निर्यात)

यहाँ X का इस्तेमाल Export के लिए किया गया है जिसका हिंदी अर्थ निर्यात करना होता है| इसका मतलब सभी वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन विदेशी उपभोग के लिए किया जाता है|

M : Import(आयात)

यहाँ M का इस्तेमाल Import के लिए किया जाता है जिसका हिंदी अर्थ आयात होता है| आयन का इस्तेमाल हम उन सेवाओं और वस्तुओं के लिए करते है जिसका उत्पादन हमारे देश में नहीं किया जाता है| 

जीडीपी के प्रकार : Types of GDP in Hindi

1. वास्तविक जीडीपी (Real GDP)

यह एक अर्थव्यवस्था द्वारा एक वर्ष में उत्पादीन वस्तुओं और सेवाओं को मापता है| वास्तविक जीडीपी वस्तुओं और सेवाओं के मौद्रिक मूल्य पर आधारित है मुद्रास्तिफी (inflation) को दर्शाता है| वास्तविक जीडीपी बाज़ार में मूल्य में परिवर्तन को represent करता है और परिमाणस्वरुप एक वर्ष से दुसरे वर्ष तक उपज के आंकड़ों के बीच होने वाले अंतर को सिमित करता है| 

2. नाममात्र जीडीपी (Nominal GDP)

यह एक अर्थव्यवस्था में आर्थिक उत्पादन का अनुमान लगाता है जिसमें इसकी गणना में वर्तमान मूल्य शामिल होते हैं| सभी वस्तुओं और सेवाओं को नाममात्र जीडीपी में गिना जाता है जो वर्तमान वर्ष में बेचे जाते हैं| इसकी गणना या तो घरेलू मुद्रा में या फिर  US dollar मुद्रा में की जाती है| नाममात्र जीडीपी का उपयोग एक ही वर्ष के अन्दर विभिन्न तिमाही के उत्पादन की तुलना करने के लिए किया जाता है|

जीडीपी के फायदे : Benefit of GDP

  • इसके अनुसार सरकार, मिडिया, व्यवसाय और व्यक्तिगत खरीदार में हर कोई अर्थव्यवस्था को समझ सकता है|
  • जीडीपी किसी एक राष्ट्र में सभी वित्तीय गतिविधियों को पकड़ता है और इसलिए कुल माप देता है|
  • इसके द्वारा यह पता लगाया जा सकता है कि देश की अर्थव्यवस्था कैसी है और इसके अनुसार देश के उन्नति का फैसला किया जाता है| 
  • विभिन्न वित्तीय रणनीतियाँ, उदाहरण के लिए, नागरिक और लोन शुल्क को बढ़ाना या कम करना, मौद्रिक विकास को गति या बाधित कर सकता है| इन वित्तीय रणनीतियों के प्रभाव को मापने के लिए सकल घरेलू उत्पाद मौद्रिक कार्रवाई का पर्याप्त रूप से संपूर्ण और पूर्ण अनुपात है|
  • इसके अनुसार आप किसी भी देश की अर्थव्यवस्था का पता लगा सकते है और यह जान सकते है की कौन सा देश अर्थव्यवस्था में सबसे आगे है|

दुनिया के टॉप 5 जीडीपी वाला देश

अब हम बात करते है नोमिनल जीडीपी द्वारा दुनिया की 5 सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था देश के बारे में जिसे नीचे विस्तार से बताया गया है|

1. United States

United States of America सन 1871 से दुनिया की सबसे अर्थव्यवस्था रहा है| इस देश की जीडीपी साल 2021 के अनुसार 21.44 trillion dollar है जो पूरी दुनिया की जीडीपी का एक चौथाई हिस्सा है| US विश्व स्तर पर एक ऐसे समाज की विकास के लिए जाना जाता है जो उद्यमिता का समर्थन करता है और प्रोत्साहित करता है, जो नए विचार को प्रोत्साहित करता है और बदले में आर्थिक विकास की ओर जाता है|

2. China

चीन दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में जाना जाता है| चीन की विकास दर 1989 से 2021 के बीच 9.27% बढ़ी है| चीन 14.14 trillion dollar की जीडीपी पर विचार करने वाली दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है| 

3. Japan

5.38 trillion dollar की जीडीपी के साथ जापान दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है| जापानी अर्थव्यवस्था की ताकत उसके इलेक्ट्रॉनिक सामान उद्योग से आती है, जो दुनिया में सबसे बड़ा है, और इसका ऑटोमोबाइल उद्योग, जो दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा है| 

4. Germany

जर्मन अर्थव्यवस्था 4.32 trillion dollar की जीडीपी के साथ दुनिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है| यह यूरोप की सबसे शक्तिशाली अर्थव्यवस्था है इसका अंदाजा आप इस तरह लगा सकते है कि यूरोप की अर्थव्यवस्था का 28% हिस्सा जर्मनी से आता है| जर्मनी के प्रमुख उद्योग कार निर्माण, मशीनरी, घरेलू उपकरण और रसायन आदि है|

5. India

3.05 trillion dollar की जीडीपी के साथ भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया में पांचवीं सबसे बड़ी है, 2019 में भारत ने UK और France को पछाड़कर पांचवां स्थान हासिल किया था| भारत की उच्च जनसंख्या के कारण, भारत की प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद $2,170 है (तुलना के लिए, US की प्रति व्यक्ति जीडीपी $62,794 है)| भारत का सेवा क्षेत्र दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाला क्षेत्र है जो अर्थव्यवस्था का 60% और रोजगार का 28% हिस्सा है|

यह भी पढ़े :-

TRP का Full Form क्या होता है

SIM का Full Form क्या होता है

WHO का Full Form क्या होता है

ATM का Full Form क्या होता है

दोस्तों, आज मैंने आपको इस आर्टिकल से बताया कि GDP Full Form क्या होता है और जीडीपी कैसे निकालते है इसके अलावा आपने यह भी जाना कि दुनिया का टॉप 5 जीडीपी वाला देश कौन है| मुझे उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा| अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप हमें comment में ज़रूर बताये और इसे share करना ना भूले|

Leave a Comment