Hardware kya hai और इसके प्रकार

Rate this post

Hardware kya hai? कंप्यूटर हार्डवेयर का नाम आपने तो सुना ही होगा या जानते होंगें कि हार्डवेयर क्या है अगर आपको नहीँ पता है कि hardware kya hai तो आपको मै इस article मे बताऊँगा की हार्डवेयर क्या होता है इसका काम क्या होता है |

आज के समय मे हर sector मे कम्प्यूटर से काम किया जाता है ये तो आप को पता ही होगा क्या आपको पता है कि कम्प्यूटर मे हमलोग कुछ भी काम करते हैं तो कोइ ना कोइ software का use करते हैं | जैसे हमे कोइ photo edit करना हो तो हम photoshop software का इस्तेमाल करते हैं या फिर हमे कोई movies या song सुनना हो तो हम vlc media player का इस्तेमाल करते है | इसी प्रकार हम और भी बहुत तरह के काम करते हैं तो उसमे अलग अलग प्रकार के software का इस्तेमाल करते हैं |

बिना software के हम computer मे कुछ नहीं कर सकते हैं ठीक उसी प्रकार सॉफ्टवेयर को चलाने के लिये computer hardware की जरुरत पड़ती है बिना hardware के software अधुरा है या ऐसे भी कह सकते हैं की बिना software के hardware अधुरा है | तो आज के इस article मे जानेगे कि hardware kya hai और इसके कितने प्रकार होते है |

Hardware kya hai – हार्डवेयर की परिभाषा

Computer hardware कंप्यूटर का physical(भौतिक) भाग होता है जिसे हम छू सकते हैं और देख सकते है वह हार्डवेयर कहलाता है | जैसे keyboard, mouse, speaker, printer इत्यादि कंप्यूटर मे जो software होता है वो सॉफ्टवेर computer के hardware को या physical parts को control करने का काम करता है | सभी सॉफ्टवेर को कंप्यूटर हार्डवेयर मे install किये जाते हैं |

Hardware device को दो भागो मे विभाजित किया गया है |

  1. Internal hardware
  2. External hardware

1. Internal Hardware

Internal hardware कंप्यूटर के अंदर लगा होता यह बाहर से दिखाई नहीं देता है इसको देखने के लिये computer or CPU खोल कर देखा जा सकता है.

Ex :- Motherboard, RAM, CPU, Graphics कार्ड आदि ये सभी internal hardware होते हैं |

2. External Hardware

वैसे हार्डवेयर जो कंप्यूटर के बाहर लगे होते है जिन्हे आसानी से देखा जा सकता है और छुआ जा सकता है |

जैसे Keyboard, Mouse, P0rinter, Speaker आदि ये सभी external hardware कहलाते है |

Hardware कितने प्रकार के होते है – Types of Hardware in Hindi

Computer हार्डवेयर को मुख्य रूप से 4 भगो मे बाँटा गया है

  1. Input device hardware
  2. Output device hardware
  3. Processing device hardware
  4. Storage/memory device hardware

1. Input device hardware

Input device उसे कहा जाता है जिसका इस्तेमाल करके कंप्यूटर मे कोइ data या instruction को enter किया जाता है वह input device कहलाता है | input device को external hardware device कहा जाता है  |

Input device के कई प्रकार होते है जिसमे से कुछ devices के बारे में नीचे बताया गया है |

  • Keyboard
  • Mouse
  • Scanner
  • Touchscreen
  • Barcode Reader

Keyboard :- keyboard इनपुट डिवाइस का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है keyboard की मदद से यूजर कंप्यूटर मे अपना instruction दे कर पाता हैं | keyboard एक external hardware होता है |

Mouse :- Mouse एक इनपुट इनपुट है जो कंप्यूटर screen के pointer या cursor को control करता है | इस device का इस्तेमाल हम file खोलने या दूसरे काम को open या close करने मे करते हैं | mouse एक external hardware device होता है |

Scanner :- Scanner एक इनपुट डिवाइस और external hardware device होता है जो कोइ document या page को हार्ड कॉपी से सॉफ्ट कॉपी मे बदलने का काम करता है |

Touchscreen :- Touchscreen एक इनपुट डिवाइस है जिसके जरिये हम किसि भी डेटा को हम कम्प्यूटर पर enter कर कर सकते हैं | touchscreen एक external hardware होता है | touchscreen को हम electronic visual display भी कहते हैं |

Barcode Reader :- Barcode reader एक इनपुट डिवाइस होता है यह barcode को read करने के लिये इस्तेमाल किया जाता है जैसे आप shopping mall मे कोइ समान खरीदने के लिये गये हो तो वहाँ bill counter पर biller आपके समान पर एक black color का code चिपका होता है तो उसे वह biller barcode reader से scan करता है तब उसके पास उस समान का पुरा जानकारी उसके कंप्यूटर मॉनिटर पर display हो जाता है |

2. Output device hardware

Output device उसे कहते है जो इनपुट डिवाइस के जरिये दिये गये task को कम्प्यूटर CPU मे डेटा को प्रोसेस होने के बाद जो result प्राप्त कर के जिस device पर दिखलाता है वह डिवाइस output device कहलाता है | नीचे मे कुछ output device के उदाहरण है |

  • Monitor
  • Printer
  • Plotter
  • Projector
  • Speaker
  • Sound card

Monitor :- Monitor एक output device और external hardware device होता है | monitor का इस्तेमाल input device के जरिये दिये गये task का result का output देखने के लिये इस्तेमाल किया जाता है इसे visual display unit भी कहा जाता है |

Printer :- Printer एक output और external hardware device होता है जो कम्प्यूटर से प्राप्त result के अनुसार paper पर print करता है |

Plotter :- Plotter एक output device है | आपने कभी न कभी market या cinema hall और highway जैसी जगहो पर बड़े–बड़े holding, banner और poster जरुर देखे होंगें जिनमें किसी filmy actor की तस्वीर या फिर कोइ product कि विज्ञापन की तस्वीरे लगी होती है क्या आपको मलुम है की उतनी बडी़ तस्वीर कैसे बनाए जाते है | ये plotter का प्रयोग करके बनाये जाते हैं | ये plotter का इस्तेमाल बड़े ग्राफ और large picture प्रिंट करने के लिये किया जाता है |

Projector :- Projector एक output device होता है इसका इस्तेमाल school/college मे पढ़ाने के लिये किया जाता है इसके अलावा प्रोजेक्टर बड़े बड़े कंपनी मे इस्तेमाल किया जाता है और cinema hall मे भी किया जाता है |

Speaker :- Speaker एक output device होता है | आप लोगो को पता ही होगा की speaker क्या है और इसका इस्तेमाल भी किये होंगे | speaker का काम ध्वनी निकालना होता है जब भी आप कोइ गाना सुनते हो तो वहाँ पर speaker का इस्तेमाल होता है |

Sound card :- Sound card एक internal hardware होता है जो की आपके लैपटॉप मे पहले से ही inbuilt आता है |

3. Processing device hardware

Processing device हम CPU को कहते है | CPU का फुल फॉर्म central processing unit होता है | CPU को कम्प्यूटर का दिमाग भी कहा जा सकता है CPU एक internal hardware होता है | हमारे कम्प्यूटर मे सभी प्रकार के कार्य को CPU ही control करता है | जो भी information हमारे कंप्यूटर मे इधर से उधर होती है उन सब पर control CPU करता है वो चाहे input हो या output हो | CPU हमारे अलग-अलग type के calculation करके उसे solve करता है |

CPU मे मुख्य रूप से तीन भाग होते हैं |

  • Memory Unit
  • Control unit
  • Arithmetic and logic unit

Memory unit(MU) :- यह एक immediate memory होता है जिसे primary memory भी कहा जाता है | जो भी हम instruction देते है कम्प्यूटर को तो वो instruction memory unit मे आ कर store होता है |

Control unit :- memory unit डेटा को control unit मे भेज देती है और यहा पर डेटा process होता है |

Arithmetic and logic unit(ALU) :- Data controlling होने के बाद ALU मे आकर operation performed होती है फिर ये सभी प्रोसेस होने के बाद Output मिल जाता है |

4. Storage/memory device hardware

Storage device एक memory होती है जो कि data को store करता है | इसके बिना आप कंप्यूटर में कुछ भी store नहीं कर सकते है |

storage device दो प्रकार के होते है |

  • Primary Storage
  • Secondary Storage

Primary Storage :- Primary Storage device को volatile memory भी कहा जाता है | यह कंप्यूटर की main memory होती है जिससे कंप्यूटर मे store data को तेजी से access किया जा सकता है | यह दो प्रकार के होते है RAM(Random Access Memory) और ROM(Read Only Memory)

Secondary Memory :- यह कंप्यूटर की permanent memory होता है और इसमें information स्थाई रूप से store रहता है | Secondary storage device को auxiliary storage device भी कहा जाता है इनमे डेटा रखने की capacity अधिक होती है |

Linux क्या है – इसका इस्तेमाल कहाँ किया जाता है 

Operating system क्या है और यह कितने प्रकार के होते है 

Monitor क्या है और इसके प्रकार | Monitor Full Form

आज आपने क्या सिखा :

दोस्तों, आज आपने hardware kya hai, hardware कितने प्रकार के होते है आदि के बारे में सिखा | आपको इस hardware in hindi से कोई सवाल या सुझाव है तो आप है हमें में ज़रूर बताये | और अगर आपको यह article पसंद आया हो तो आप अपने दोस्तों या रिश्तेदारों को ज़रूर share करें |

Leave a Comment