Jeff Bezos Biography in Hindi | जेफ़ बेजोस संपत्ति, उम्र, शिक्षा आदि

Jeff Bezos Biography in Hindi? दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में दुनिया के सबसे अमीर इंसान में से एक और दुनिया की सबसे बड़ी e-commerce कंपनी Amazon के मालिक Jeff Bezos के बारे में बात करने वाले है | अगर आप जेफ़ बेजोस के जीवन के बारे में जानना चाहते हैं जैसे वह कहाँ तक पढ़े हुए हैं, उन्होंने इतनी बड़ी कंपनी अमेज़न की शुरुआत कैसे की और इससे जुड़े और भी कई सवालों के जवाब जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़े | क्यूंकि इस आर्टिकल में मैंने जेफ़ बेजोस के बारे में विस्तार से बताया है |

जेफ़ बेजोस का जीवन परिचय (Jeff Bezos Biography in Hindi)

जेफ़ बेजोस का जन्म 12 जनवरी 1964 को अमेरिका के New Maxico शहर में हुआ था और उनके जन्म के वक़्त उनके माता Jacklyn की उम्र सिर्फ 17 वर्ष थी जो कि उस समय अपने high-school की परीक्षा दे रही थी | जेफ़ बेजोस के पिता का नाम Ted Jorgensen था जो जेफ़ बेजोस जब सिर्फ 18 महीने के थे तब उनको और उनकी माँ को छोड़कर चले गए थे | इसके बाद जेफ़ की माता ने अकेले ही उन्हें पाला | जेफ़ जब 4 साल के हुए तब उनकी माता ने Miguel Bezos से दूसरी शादी कर ली, तब से जेफ़ का उपनाम Bezos हो गया | शादी के बाद उनकी माता-पिता ने जेफ़ बेजोस को लेकर Houston चले गए |

जेफ़ बेजोस की नेट-वर्थ, उम्र, पत्नी (Jeff Bezos Net-Worth, Age, Wife)

नाम जेफ़ बेजोस
जन्मतिथि 12 जनवरी 1964
पिता का नाम मिगुएल बेजोस
माता का नाम जैकलिन बेजोस
पत्नी मैककेंजी स्कॉट
बच्चे 3 बेटा & 1 बेटी
पेशा कंप्यूटर साइंटिस्ट, निवेशक, बिजनेसमैन
नेट-वर्थ $187 Billion
उम्र 58 वर्ष (2022)
राष्ट्रीयता अमेरिकन

जेफ़ बेजोस की शिक्षा (Education of Jeff Bezos in Hindi)

जेफ़ बेजोस ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा Rever Oaks Elementary School से की और जब वह 4th क्लास में थे तब उनके स्कूल में पहली बार कंप्यूटर आया था | उस समय टीचर को भी कंप्यूटर की ज़्यादा समझ नहीं थी और कंप्यूटर चलाना नहीं आता था | लेकिन जेफ़ इतना होशियार थे कि उन्होंने अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर कंप्यूटर चलाने की एक पूरी किताब पढ़ ली और कंप्यूटर चलाना भी सिख लिया था | उनको कम उम्र से ही टेक्नोलॉजी, साइंस और किताबो में बहुत ज़्यादा रूची थी |

जेफ़ बेजोस जब थोड़े बड़े हुए तब उनका मन electronic gadgets में ज़्यादा लगने लगा और उन्होंने एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक अलार्म बनाया जिससे किसी को भी उनके कमरे में आने से पहले उन्हें पता चल जाए और यह अलार्म उन्होंने अपने कमरे में गुप्त रूप से लगाया |

आआगे चलकर उनका परिवार Florida के Miami शहर में शिफ्ट हो गया Palmetto High School से अपनी पढ़ाई पूरी की और साल 1986 में उन्होंने Princeton University से computer science और electrical engineer की डिग्री हासिल की |

Bill Gates Biography in Hindi – बिल गेट्स की संपत्ति, उम्र, शिक्षा 

जेफ़ बेजोस के संघर्ष

जेफ़ बेजोस मात्र 16 साल की उम्र से ही McDonald’s में काम करना शुरू कर दिया था | जेफ़ बेजोस कहते है, नौकरी के पहले हफ्तों में उनसे एक भूल हो गई थी, उनसे restaurant के kitchen में कैटचप के 5 डब्बे खुले रह गए थे और कैटचप kitchen के दरारों में जम गया था, जिसकी वजह से उनके बॉस ने उनको बहुत डाटा था और उनको वह गिरा हुआ कैटचप साफ़ करना पड़ा था जिससे जेफ़ काफी निराश हुए थे |

लेकिन जेफ़ के लिए McDonald’s में काम करने का अनुभव बेहतरीन रहा, क्यूंकि जेफ़ को न केवल कस्टमर सर्विस और दबाव में काम करने का अनुभव मालूम हुआ बल्कि उन्हें अच्छे मेनेजर का महत्व भी पता चला | और फिर साल 1986 में जेफ़ ने wall street में कंप्यूटर विज्ञान में काम करना शुरू किया | यही वह जगह थी जहाँ जेफ़ पहली बार अपने जीवन-साथी MacKenzie Scott से मिले थे और साल 1993 में इन दोनों ने शादी कर लिया |

Ratan Tata Biography in Hindi – रतन टाटा की संपत्ति, उम्र, शिक्षा 

जेफ़ बेजोस ने किस तरह अमेज़न की शुरुआत किया 

साल 1994 तक जेफ़ ने wall street में अलग-अलग फील्ड में काम किया | लेकिन वह अक्सर यह सोचा करते थे कि वह कब तक दूसरो के लिए काम करेंगे | यह वह दौर था जब पूरी दुनिया में इन्टरनेट तेज़ी से बढ़ रहा था | एक दिन internet surfing करते समय जेफ़ को यह पता चला कि web users की संख्या हर साल 2300% की दर से बढ़ रही है | इसलिए उन्होंने सोचा कि क्यूँ ना इसका फायदा उठाया जाए और online business किया जाये |

जेफ़ बेजोस को किताबो से बहुत ज़्यादा लगाओ था और वह हर समय कुछ-न कुछ पढ़ते रहते थे | इसलिए जेफ़ बेजोस ने सबसे पहले ऑनलाइन किताब बेचने का फैसला किया और उस समय किताब बेचने पर किसी तरह का टैक्स नहीं था जो जेफ़ बेजोस के लिए एक अच्छा अवसर था | लेकिन इस काम में बहुत दिक्कत थी जैसे सॉफ्टवेर कौन सा इस्तेमाल किया जाए और किताबे पूरी दुनिया में किस तरह पहुँचाया जाए |

लेकिन जेफ़ बेजोस इरादे के बहुत पक्के थे और जो काम करने के बारे में वह ठान लेते थे वह काम पूरा करके रहते थे सुर इसके लिए उन्होंने अपनी अच्छी खासी नौकरी छोड़ दी जो उस समय उनके लिए बहुत जोखिम भरा फैसला था | इसके बाद उन्होंने दिन-रात मेहनत करके एक ऐसा सॉफ्टवेर बनाया जिसकी मदद से किताब इन्टरनेट पर आर्डर की जा सके | 

इसके बाद जेफ़ ने साल 1994 में तीन कंप्यूटर और कुछ employees के साथ ऑनलाइन कंपनी की शुरुआत की | जेफ़ ने इस कंपनी की शुरुआत एक मोटर गेराज से शुरू की थी | उन्होंने इस कंपनी का नाम शुरू में Cadbara.com रखा था लेकिन तीन महीने के बाद उन्होंने इसका नाम south-america की सबसे बड़ी नदी अमेज़न के नाम पर Amazon.com रख दिया | जेफ़ इस कंपनी को दुनिया की सबसे बड़ी online book selling कंपनी बनाना चाहते थे |

16 जुलाई 1995 से जेफ़ ने अपने वेबसाइट पर किताब बेचना शुरू कर दिया और पहले ही महीने में अमेज़न ने अमेरिका के 50 राज्यों और 45 अन्य देशों में अपनी साड़ी किताबे बेच दी | लेकिन यह काम इतना आसान भी नहीं था, उन्हें सभी किताबो को पैक करना पड़ता था और पार्सल देने के लिए खुद जेफ़ बेजोस को भी जाना पड़ता था | लेकिन जल्दी ही जेफ़ की मेहनत रंग लाई और सिर्फ एक महीने के अन्दर ही amazon में हर हफ्ते $20,000 की कमाई होने लगी और वर्ष 1997 में amazon.com अमेरिका में सर्वजनिक हो गई थी और साल 1998 तक उन्होंने अपने वेबसाइट पर DVD, Software, Electronics और कई तरह के प्रोडक्ट ऑनलाइन बेचना शुरू कर दिया था |

इस कंपनी को शुरु करने के लिए शुरुआत निवेश जेफ़ के माता-पिता ने किया था जो $3,00,000 थी | इतनी बड़ी रकम इन्वेस्ट करते समय जेफ़ के पिता ने जेफ़ की माता से पुछा था कि क्या तुम जानती हो कि इन्टरनेट क्या होता है तब उनके माँ ने कहा था कि हम इन्टरनेट पर नहीं अपने बेटे पर दाव लगा रहे हैं | और उनका यह दाव रंग लाया और अमेज़न के 6% शेयर होल्डर होने के कारण साल 2000 में उनके माता पिता अरबपति हो गए थे |  

साल 2007 आते-आते अमेज़न कंपनी ऑनलाइन बिक्री का जाना-माना ब्रांड बन चुका था | लेकिन अमेज़न कंपनी का टर्निंग पॉइंट तब आया जब नवम्बर 2007 में Amazon Kindle Ebooks को बाज़ार में लांच किया गया, जिसकी माध्यम से तुरंत किताबो को डाउनलोड करके पढ़ा जा सकता है | मार्किट में 6 घंटे के अन्दर ही kindle का सारा स्टॉक बिक गया था | Kindle अमेज़न के लिए बहुत अच्छा साबित हुआ क्यूंकि इसमें किताबो की शिपिंग की झंझट नहीं थी और इसमें खर्चा भी बचता था |

आय के हिसाब से आज अमेज़न दुनिया की सबसे बड़ी इन्टरनेट कंपनी बन गई है और आज के समय में इसमें लगभग 6,50,000 से ज़्यादा कर्मचारी काम करते हैं | 

Zayn Malik Biography in Hindi – जैन मलिक की संपत्ति, उम्र, गर्लफ्रेंड

जेफ़ बेजोस की संपत्ति (Net-Worth of Jeff Bezos in Hindi)

वर्तमान में जेफ़ बेजोस की नेट-वर्थ $187.1 Billion है जो भारतीय रूपये में 13.89 लाख करोड़ रुपया होता है और जेफ़ बेजोस की कंपनी अमेज़न की मार्किट वैल्यू $1.735 Trillion है | जेफ़ बेजोस दुनिया के पहले इंसान थे जिन्होंने सबसे पहले $100 Billion का आकड़ा पार किया था | 

जेफ़ बेजोस के द्वारा कही गई कुछ महत्वपूर्ण बाते 

मैं जनता था कि अगर मैं फेल हो जाता हूँ तो मुझे अफ़सोस नहीं होगा, लेकिन मैं यह भी जनता था कि एक चीज़ जिसका मुझे अफ़सोस हो सकता है और वह है कोशिश ना करना |

यदि आप हर साल अपने द्वारा किये जाने वाले प्रयोगों को दोगुना कर दें, तो आप अपनी अविष्कारशीलता को दोगुना कर लेंगे |

मेरा मानना है कि अगर आप कुछ नया करने जा रहे हैं, तो आपको गलत समझे जाने के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए |

हम चीजों को सिर्फ इसलिए नहीं करना चाहते हैं क्यूंकि हम उन्हें कर सकते हैं, हम व्यर्थ में कुछ भी नहीं करना चाहते हैं |

ऐसी चीज़े खोजना बहुत मुश्किल है, जो ऑनलाइन नहीं बिक सकती है |

जेफ़ बेजोस से जुड़े कुछ सवाल जो अक्सर पूछे जाते है

जेफ़ बेजोस एक दिन में कितना कमाते हैं?

जेफ़ मेजोस एक दिन में लगभग $205 Million कमाते हैं |

जेफ़ बेजोस कौन देश के निवासी हैं ?

जेफ़ बेजोस अमेरिका के निवासी है |

वर्तमान में अमेज़न कंपनी का मालिक कौन है?

वर्तमान समय में अमेज़न कंपनी के मालिक जेफ़ बेजोस है |

जेफ़ बेजोस की नेट-वर्थ कितनी है ?

जेफ़ बेजोस की नेट-वर्थ $187 Billion है |

निष्कर्ष :

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में मैंने जेफ़ बेजोस का जीवन परिचय के बारे में बताया और साथ ही यह भी जाना कि उन्होंने अमेज़न कंपनी की शुरुआत कैसे की थी | अगर आपने इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ा होगा तो मुझे उम्मीद है कि आपको जेफ़ बेजोस के बारे में पूरी जानकारी हो गई होगी |

अगर आपको यह आर्टिकल Jeff Bezos Biography in Hindi से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट में लिखकर ज़रूर बताये और अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को ज़रूर शेयर करें ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोग इनके बारे में जान सके और इनके जीवन से प्रेरणा ले सके | 

Leave a Comment