Pishachini 2nd December 2022 Written Update:

Pishachini 2nd December 2022 Written Update:

एपिसोड की शुरुआत विद्या और बबली को इस बात की चिंता से होती है कि पवित्रा उसकी हथेली पर जलते हुए पत्थर से चोटिल हो सकती है और कनिका को आग बुझाने के लिए कह रही है। कनिका का कहना है कि उनके पास इसके अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है। वह कहती हैं कि यह जादुई पत्थर ठंडक को सोख लेगा और नीला हो जाएगा। दूसरी ओर, रॉकी खिड़की खोलने की कोशिश करता है और उसे बर्फ के कारण अवरुद्ध पाता है। दादाजी कहते हैं कि ऐसा लगता है कि किसी ने जानबूझकर बर्फ से दरवाजे और खिड़कियां बंद कर दी हैं।

इधर, कनिका सभी को पवित्रा के आसपास खड़े होने के लिए कहती है ताकि पत्थर पर लगी आग बुझ न जाए। वे उपकृत करते हैं। लेकिन सपना नहीं चलती। बबली ने उससे आने का आग्रह किया। विद्या सूचित करती है कि पवित्रा धीरे-धीरे जम रही है। कनिका का कहना है कि यह जादुई पत्थर का असर है जो पवित्रा में झलकता है। कनिका कहती हैं कि उन्हें पवित्रा को गर्म रखना चाहिए। पवित्रा की निस्वार्थता से सरिगा हैरान है और कहती है कि यह इतना बड़ा बलिदान है। सपना का कहना है कि यह उनकी गलती से बड़ी नहीं है। वह संचित की मौत का कारण बनने के लिए पवित्रा को श्राप देती है। शिखा सपना को इसे रोकने के लिए कहती है। वह कहती है कि संचित की मौत के लिए वह जिम्मेदार है, जिसने सभी को चौंका दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *