SIM ka full form क्या होता है | SIM Full Form in Hindi

Rate this post

क्या आप जानते है SIM ka full form क्या होता है? कई लोग इसके बारे में पहले से जानते होंगे लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सिम का फुल फॉर्म क्या होता है यह नहीं पता होगा |

अगर आप सिम क्या है, सिम का फुल फॉर्म, सिम कितने प्रकार के होते है या सिम से जुड़े किसी भी प्रकार की जानकारी की तलाश कर रहें है तो आप बिल्कुल सही जगह आयें है क्यूंकि आज के इस आर्टिकल में मैं आपको इन सभी के बारे में बताने वाला हूँ जिसके लिए आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा |

हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपको सिम से जुड़े जितने भी सवाल आपके मन में चल रहे होंगे वो सभी के जवाब मिल जायेंगे तो चलिए बिना समय को बर्बाद किये शुरू करते है |

SIM Ka Full Form

SIM का फुल फॉर्म Subscriber Identity Module होता है जिसका हिंदी में ग्राहक पहचान माड्यूल कहते है |

  • S : Subscriber
  • I : Identity
  • M : Module

SIM Full Form in Hindi

जैसा कि आपने ऊपर जाना कि सिम का फुल फॉर्म क्या होता है लेकिन सिम का एक और फुल फॉर्म होता है जिसे सिम कार्ड के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है जो है Subscriber Identification Module .

सिम क्या है : What is SIM in Hindi

सिम एक integrated circuit है जो international mobile subscriber identity (IMSI) को सुरक्षित रूप से स्टोर करता है | यह एक portable मेमोरी चिप होता है जो आपके दुनिया भर में फ़ोन कॉल करने और मैसेज करने में सक्षम बनाता है | बिना सिम के आप किसी को कॉल या मैसेज नहीं भेज या कर सकते है |

सिम का इस्तेमाल आमतौर पर GSM नेटवर्क पर चलने वाली मोबाइल फ़ोन में किया जाता है | यह portable होता है यानी आप इसे किसी भी supporting मोबाइल फ़ोन के साथ इस्तेमाल कर सकते है |

Android क्या है और इसकी शुरुआत कैसे हुई

Bitcoin क्या है और इसे कैसे ख़रीदे

पहला सिम कार्ड Munich smart card निर्माता Giesecke और Devrient द्वारा 1991 में बनाया गया था | शुरुआत में जब सिम कार्ड का अविष्कार किया गया था तब यह लगभग क्रेडिट कार्ड के आकार का था | लेकिन धीरे-धीरे इसके आकार को छोटा किया गया और आज अधिकतर स्मार्टफ़ोन में micro और mini सिम कार्ड का उपयोग किया जाता है |

Prepaid SIM क्या होता है ?

Prepaid सिम वैसे सिम को कहा जाता है जिसमें आपको calling, messaging, data उपयोग और किसी भी अन्य सेवाओं के लिए पहले पैसे देने होते है | आपको इसका उपयोग करने के लिए पहले रिचार्ज करना होता है और फिर आप इसका उपयोग तब तक कर सकते हैं जब तक रिचार्ज की अवधि समाप्त ना हो जाए |

Postpaid SIM क्या होता है ?

Postpaid सिम वैसे सिम को कहा जाता है जिसमें आप सेवा के उपयोग के बाद भुकतान कर सकते है | इसमें ग्राहक मोबाइल नेटवर्क की सेवाओं का उपयोग कर सकता है और फिर महीने के अंत में उनके द्वारा इस्तेमाल किये गए सभी सेवाओं के लिए पैसे लिया जाता है |

इसका मतलब आप calling, messaging, data उपयोग जैसे सेवाओं का आनंद पहले ले सकते है और बाद में महीने के अंत में आप अपने द्वारा इस्तेमाल किये गए सेवाओं के लिए भुकतान कर सकते है |

सिम कार्ड में क्या-क्या जानकारी स्टोर होती है

सिम कार्ड में आपके नेटवर्क के लिए आवश्यक जानकारी होती है और इसमें आपका कुछ पर्सनल डेटा भी होता है |

  • Phone number
  • Text messages
  • Address book
  • Network authorization data
  • Personal security keys
  • Other data

इसके अलावा एक सिम में उसका unique serial number (ICCID), International Mobile Subscriber Identity (IMSI), security information, ciphering information और local network से संबंधित temporary information आदि भी मौजूद होती है |

सिम कार्ड कहाँ और कैसे मिलती है

अभी के मुकाबले पहले सिम कार्ड खरीदना ज़्यादा मुश्किल था | लेकिन आज हम बहुत ही आसानी से सिम खरीद सकते है | इसके लिए आपको अपने किसी नजदीकी मोबाइल दुकान पर जाना होगा और आप जिस कंपनी की सिम खरीदना चाहते है आप उस कंपनी का नाम बताकर सिम खरीद सकते है |

Cryptocurrency क्या है और क्या ये भारत में Illegal है

Artificial Intelligence क्या है

सिम की बहुत सारी कंपनियाँ मार्किट में मौजूद है जैसे :- एयरटेल, जिओ, आईडिया, वोडाफ़ोन, बीएसएनएल इत्यादि | आप इसमें से अपने मन चाहे कंपनी की सिम का नाम बताकर दूकानदार से सिम खरीद सकते है |

सिम कार्ड खरीदने के लिए क्या ज़रूरी है

  • सिम कार्ड खरीदने के लिए आपकी उम्र 18 होना अनिवार्य है |
  • आपका अपना identity proof होना चाहिए अगर नहीं है तो आप अपने नाम से सिम नहीं खरीद सकते है |
  • जिस व्यक्ति के नाम से सिम ख़रीदा जा रहा है उस व्यक्ति का पासपोर्ट साइज़ फोटो लगता है |
  • आप identity proof के तौर पर आधार कार्ड, वोटर आईडी, पैन कार्ड या पासपोर्ट का भी इस्तेमाल कर सकते है |

सिम कार्ड की क्या-क्या विशेषताएं है

सिम कार्ड की कई विशेषताएं है जिसमे से कुछ महत्वपूर्ण विशेषताओं के बारे में नीचे बताया गया है |

  • सिम कार्ड का आकार बहुत ही छोटा होता है जिसे हमें उसे रखने और इस्तेमाल करने में दिक्कत नहीं होती है |
  • अगर आप अपने मोबाइल से किसी से बात कर रहे है और आपकी मोबाइल की बैटरी ख़तम हो जाती है ती ऐसे में आप अपने सिम को अपने मोबाइल से निकरकर दुसरे मोबाइल में लगाकर बात कर सकते है |
  • अगर आपका सिम चोरी हो जाता है या किसी कारण से ख़राब हो जाता है तो आप उस नंबर से दूसरा सिम ले सकते है |
  • आप एक ही सिम का इस्तेमाल पुरे विश्व में कर सकते है लेकिन अलग-अलग स्थानों पर इस्तेमाल के लिए इसके अलग-अलग चार्ज होते है |
  • आप एक ही नंबर का इस्तेमाल लाइफ टाइम कर सकते है जिससे आपको नंबर बदलने की दिक्कत भी नहीं होती है |

SIM ICCID नंबर क्या होता है

ICCID का पूरा नाम Integrated Circuit Card Identification Number होता है | यह 18-22 digit का एक unique कोड होता है जिसमें सिम कार्ड का देश, घरेलू नेटवर्क और पहचान शामिल होता है | यह आम तौर पर सिम कार्ड के पीछे प्रिंट किया होता है |

मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर ICCID नंबर का उपयोग यह निर्धारित करने के लिए करने के लिए करता है कि subscriber को किस नेटवर्क से कनेक्ट करना है | उदहारण के तौर पर, ICCID Number :- 891004234814455936F .

प्रत्येक ICCID नंबर में, पहले के दो अंक हमेशा 89 होते है | यह एक industry code है जो indicate करता है कि दूरसंचार नेटवर्क के लिए एक product है |

सिम से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

  • दुनिया का पहला सिम 1991 को बना था जिसका आकार आज के क्रेडिट कार्ड के बराबर था |
  • जब सिम कार्ड का अविष्कार हुआ था तब उस समय सिर्फ 300 सिम कार्ड बनाये गए थे |
  • माइक्रो सिम को पहली बार 2010 में और नैनो सिम को 2012 में पेश किया गया था |
  • नोकिया mobile में सबसे पहले 1992 को सिम कार्ड का इस्तेमाल किया गया था |
  • आज लगभग पूरी दुनिया में 7 billion से भी ज्यादा सिम कार्ड के subscriber है और यह बढ़ता ही जा रहा है |
  • 1993 में पहली बार सिम द्वारा एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति को मैसेज भेजा गया था |

सिम कार्ड से जुड़े सबसे ज़्यादा पूछे जाने वाले सवाल

एक आधार कार्ड से कितने सिम ख़रीदा जा सकता है ?

एक आधार कार्ड से 9 सिम ख़रीदा जा सकता है |

भारत में किस कंपनी का सिम सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है ?

भारत में सबसे ज़्यादा JIO सिम का इस्तेमाल किया जाता है जिसका subscriber 411.53 million है |

सिम कार्ड का अविष्कार किसने और कब किया था ?

सिम कार्ड का अविष्कार 1991 में जर्मनी के दो वैज्ञानिक जिसेक और डेविएन्ट ने किया था |

यह भी पढ़े :-

ATM का Full Form क्या होता है

SST का Full Form क्या होता है

CBI का Full Form क्या होता है

PUBG का Full Form क्या होता है

दोस्तों, आज आपने इस आर्टिकल से जाना की sim ka full form क्या होता है और इसके अलावा सिम कार्ड से संबंधित और भी जानकारी जानने को मिली होगी | मझे उम्मीद है कि आपको सिम कार्ड के बारे में सारी जानकारी मिल गई होगी | अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को ज़रूर share करें |

Leave a Comment