What is Algorithm in Hindi | एल्गोरिथम क्या है

5/5 - (1 vote)

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में मैं आपको algorithm के बारे में जानकारी देने वाला हूँ क्यूंकि बहुत कम लोग ही जानते होंगे कि एल्गोरिथम क्या है और इसका इस्तेमाल क्यूँ किया जाता है| अगर आप भी algorithm के बारे में जानकरी जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़े ताकि आपको एल्गोरिथम के बारे में पूरी जानकारी मिल सके|

एल्गोरिथम क्या है : What is Algorithm in Hindi

एल्गोरिथम को प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में प्रोग्राम लिखने से पहले बनाया जाता है जिससे कि एक बेहतर प्रोग्राम बन सके| एल्गोरिथम का उपयोग किसी भी प्रॉब्लम को solve करने के लिए किया जाता है| एल्गोरिथम किसी भी काम को step by step solve करता है|

एल्गोरिथम शब्द फारसी लेखक के नाम Abu Ja ‘far Mohammed ibn Musa al Khowarizmi (c. 825 A.D.) से लिया गया है, जिन्होंने गणित पर एक book लिखी है| यह शब्द कंप्यूटर विज्ञान में एक विशेष महत्व प्रदान करने के आधार पर लिया गया है|

उदहारण के लिए मान लेते हैं कि आपको किसी को फ़ोन करना है, फ़ोन करना भी एक तरह का काम ही है क्यूंकि इसमें आपको कुछ करना है| अब फ़ोन करने के लिए आपको बहुत से काम करने होते है जैसे –

  • step – 1 : सबसे पहले आप फ़ोन को इस बात के लिए चेक करेंगे कि फ़ोन on है या नहीं|
  • step – 2 : अगर आपको फ़ोन on करके आपको उस व्यक्ति का फ़ोन नंबर डायल करना होता है जिससे आप बात करना चाहते है|
  • step – 3 : नंबर डायल करने के बाद आपको टारगेट व्यक्ति के मोबाइल में बेल जाने का इंतज़ार करना होता है|
  • step – 4 : अगर बेल जाती है और टारगेट व्यक्ति फ़ोन attend कर लेता है तो आपकी उससे बात हो जायेगी|

दोस्तों इन चार step से समझ सकते है कि आपको फ़ोन करने जैसी मामूली प्रॉब्लम को सुलझाने के लिए भी एक sequence का पालन करना पड़ता है और साथ ही सभी step को फॉलो करना भी होता है| आप इन step के क्रम को बदल नहीं सकते है और ना ही आप किसी step को छोड़ सकते है| यदि आप इन में से किसी भी एक step को छोड़ देते है तो आप जिस व्यक्ति से बात करना चाहते है उससे बात नहीं कर पायेंगे| यानी प्रॉब्लम का solution नहीं मिलेगा इसीलिए आपको किसी भी प्रॉब्लम का एक solution प्राप्त करने के लिए आपको उस प्रॉब्लम को अलग-अलग समूह के रूप में solve करना होता है| इस फॉलो किये जाने वाले step के समूह को ही एल्गोरिथम कहा जाता है|

एल्गोरिथम के लक्षण : Characteristics of Algorithm in Hindi

1. Finiteness : एक एल्गोरिथम जितने कम step में अपना पूरा काम करती है वो उतनी ही अच्छी होती है| उसमें हमेशा गिनती के step होते है|

2. Precisely Defined : एल्गोरिथम का हर एक स्टेप clearly defined होता है जिसे आसानी से पढ़ा जा सकता है|

3. Input : एक अच्छा एल्गोरिथम हमेशा एक अच्छा इनपुट लेती है|

4. Output : एल्गोरिथम हमेशा अच्छे इनपुट की तरह अच्छा output भी देती है|

5. Effectiveness : एल्गोरिथम हमेशा problem solving होना चाहिए|

6. Unambiguous : एल्गोरिथम सही और स्पष्ट होना बहुत ज़रूरी है जिसमे लाइन और स्टेप का कुछ अर्थ निकले|

एल्गोरिथम का उपयोग कहाँ होता है : Use of Algorithm in Hindi

जैसा कि मैंने आपको उपर बताया कि एल्गोरिथम का उपयोग आजकल हर जगह किसी भी प्रॉब्लम को step by step इसके ज़रिये निकला जा सकता है और अगर देखा जाये तो इसका ज़्यादातर उपयोग industries, companies, programming इत्यादि में किया जाता है|

  • Mathematical प्रॉब्लम को solve करने के लिए एक अच्छी और सही एल्गोरिथम का प्रयोग किया जाता है| जैसे अगर 1 नंबर 0 से बड़ा है तो “+” और छोटा है तो “-” है|
  • फेसबुक, गूगल, गूगल मैप भी एल्गोरिथम के द्वारा ही सारा काम करते हैं|
  • सॉफ्टवेर इंजिनियर और कंप्यूटर साइंटिस्ट भी इसका उपयोग करते है क्यूंकि इससे उन्हें काम करने में समय की बचत होती है और कम समय में ज़्यादा काम हो जाता है|
  • गलतियाँ न हो इसके लिए flow chart बनाने से पहले एक सही एल्गोरिथम का उपयोग किया जाता है|
  • कई सारी फील्ड जैसे कि space research, robotics, artificial intelligence में भी इसका उपयोग मुख्य रूप से किया जाता है|
  • प्रोग्राम लिखने से पहले programming language में एल्गोरिथम का उपयोग किया जाता है| अगर आप Computer Science, IT, BCA या MCA के छात्र है और आपको एक प्रोग्राम लिखना है जैसे कि “check the number is not prime” तो आप ऐसे प्रोग्राम को बिना सोचे समझे लिखना शुरू करते है ततो आपको बहुत साड़ी गलती देखने को मिल सकती है|

एल्गोरिथम के फायदे : Advantage of Algorithm in Hindi

  • एल्गोरिथम से किसी भी प्रॉब्लम को solve करने में आसानी होती है|
  • एक एल्गोरिथम एक निश्चित प्रकिर्या का उपयोग करता है|
  • यह किसी भी programming language पर निर्भर नहीं है इसीलिए प्रोग्रामिंग ज्ञान के बिना भी किसी को एल्गोरिथम को समझना आसान होता है|
  • एल्गोरिथम में प्रत्येक स्टेप का अपना logical sequence होता है इसीलिए इसे debug करना आसान होता है|
  • एल्गोरिथम को flow chart में बदल सकते है और उसे किसी भी programming language में बदल सकते है|

निष्कर्ष :

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में मैंने आपको एल्गोरिथम में बारे में पूरी जानकारी दी जैसे एल्गोरिथम क्या है, एल्गोरिथम के फायदे, एल्गोरिथम के उपयोग इत्यादि| मुझे उम्मीद है कि अगर आपने इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा तो आपको एल्गोरिथम के बारे में पूरी जानकारी हो गई होगी| अगर आपको यह आर्टिकल What is Algorithm in Hindi पसंद आया हो तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को ज़रूर शेयर करें|

यह भी पढ़े :

HTML क्या है यह कैसे काम करता है

सॉफ्टवेर क्या है और कैसे बनाया जाता है

Operating System क्या है और कितने प्रकार के होते है

Leave a Comment