What is Tally in Hindi | टैली क्या है पूरी जानकारी

Rate this post

What is Tally in Hindi? अगर आपने  कंप्यूटर का कोई भी कोर्स किया होगा तो Tally का नाम जरुर सुना होगा, अगर आपको टैली के बारे में नही पता है तो कोई बात नहीं, क्यूंकि आज के इस आर्टिकल में मैं उसी पे चर्चा करने वाला हूँ| आज मैं आपको बताऊंगा की टैली क्या है, टैली का फुल फॉर्म क्या है, टैली का इतिहास ऐसे ही टैली से जुड़ी और भी बातों को मैं आपको बताने वाला हूँ|

टैली क्या है : What is Tally in Hindi

टैली का काम गणना करना साथ ही संरक्षित करना और किसी वस्तु का रिकॉर्ड रखने का काम में आता है| पहले के समय में कोई भी अकाउंट का काम पेपर या रजिस्टर पर होता है, लेकिन जब से ये सारे काम कंप्यूटर पर होने लगा है, तब से टैली का उपगोग बहुत जायदा होने लगा है, आज कल हमलोग कंप्यूटर में जब भी एकाउंटिंग की बात करते है तो सबसे पहले टैली का नाम आता है, क्यूंकि अकाउंट को संभालना या संचालन करना टैली के मदद से बहुत ही ज़्यादा आसान हो जाता है, आज बहुत सारे कंपनिया टैली को अपने काम में लेती है, टैली का इस्तेमाल अन्य देशो में भी किया जाता है|

टैली का फुल फॉर्म : Tally Full Form in Hindi

Tally का फुल फॉर्म के बारे में आप में से बहुत कम लोगों को पता होगा तो चलिए हमलोग जानते है की टैली का फुल फॉर्म क्या होता है, Tally का फुल फॉर्म Transaction Allowed In a Linear Line Yards होता है| आपको बता दे की Tally अकाउंट में उपयोग होने वाले सबसे लोकप्रिय सॉफ्टवेर है, टैली का निर्माण Tally Solution Pvt. Ltd कंपनी में किया, इस कम्पनी के रिकॉर्ड से देखे तो दस लाख लोग Tally को अपने इस्तेमाल में लेते है और इसका Headquarter बंगलौर में स्थित है, अगर आप भी अकाउंट का काम करते है तो आप टैली का इस्तेमाल कर सकते है और साथ ही साथ आप इसके ढेर सारे feature को देख पायेंगे|

टैली का इतिहास क्या रहा है : History of Tally in Hindi

तो चलिए सबसे पहले हमलोग बात करते है टैली को किसने बनाया कौन से कंपनी ने बनाया, Tally को बनाने वाली कम्पनी एक भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसका नाम Tally Solution Pvt. Ltd है, जिसके द्वारा टैली को बनाया गया, और इसका मुख्यालय बंगलुरु में स्तिथ है, Tally Software का फाउंडर श्याम सुन्दर गोयनका और इनका खुद का बेटा भरत गोयनका है| आपको बता दे कि Tally Solution Pvt. Ltd कम्पनी का नाम शुरू में Peutronics था| लेकिन 1998 में इसका नाम बदल के Tally Solution Pvt. Ltd रख दिया गया, शुरूआती दौर में टैली सॉफ्टवेयर का उपयोग बहुत ही कम लोग करते है लेकिन आज इसका इस्तमाल पहले से काफी ज्यादा हो गया है और धीरे-धीरे इसका इस्तेमाल बढ़ते ही जा रहा है|

  • सन2005 में टैली को और भी अच्छा डिज़ाइन के साथ बाजार में उतारा गया जिसमें सबसे मुख्य फीचर Value Added Taxation (VAT) था जो की भारतीय customer के लिए बहुत उपयोगी था ये Tally 7.2 version था|
  • 1999 में इस कंपनी ने formally कंपनी का नाम बदलकर Tally Solutions रखा|
  • 2001 के साल में टैली के न्यू version Tally 6.3 को लांच किया गया ये version थोड़ा एडवांस था क्यूंकि इस में Accounting के अलावा Educational उद्देश्य से उपयोग करने की योग्यता थी इसके साथ इस में License की सुविधा भी दी गई|
  • 2006 में Tally के 2 version को release किया गया जिसमें से एक Tally 8.1 था और दूसरा Tally 9.
  • ये टैली के multilinguals version थे 2009 में इस कंपनी ने Tally ERP 9 एक Business management solution रिलीज़ किया|

टैली के फायदे : Benefit of Tally in Hindi

अगर आप अकाउंट में अपना रूचि रखते है, तो टैली आपके लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण सॉफ्टवेर है आप इसके माध्यम से आपको कम पैसो में अच्छा जॉब मिल सकता है अगर आप 12th कॉमर्स से कर रखा है तो फिर आप इस कोर्स को कर के अच्छे पैसे कमा सकते है|

आज के समय में टैली का इस्तेमाल बहुत ही ज्यादा होने लग गया है, बहुत सारे स्टूडेंट सोचते है की 12th के बाद क्या करे मैं आपको बताना चाहता हूँ की अगर आपका एकाउंटिंग में रूचि है तो मैं आपको सलाह दूंगा की अकाउंट क्यूंकि अकाउंट को संभालना या संचालन करना टैली के मदद से बहुत ही जायदा आसन हो जाता है, आज बहुत सारे कंपनिया टैली को अपने काम में लेती है, टैली का इस्तेमाल अन्य देशो में भी किया जाता है|

निष्कर्ष :

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में मैंने आपको टैली के बारे में पूरी जानकारी दी जैसे कि टैली क्या है, टैली का फुल फॉर्म क्या होता है, टैली के फायदे इत्यादि| अगर आपको सी आर्टिकल से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते है और अगर अआप्को यह आर्टिकल पसंद आया है तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को ज़रूर शेयर करें|

यह भी पढ़े :

सॉफ्टवेर इंजिनियर कैसे बने

फर्मवेयर क्या है पूरी जानकारी

बायोस क्या है यह कंप्यूटर में कहाँ होता है

Leave a Comment